कुछ राज़ की बातें जो तुझसे कह नहीं पाया।

इतना आसान नहीं है अल्फ़ाज़ों को जोड़कर कागज़ पर उतरना, इतना आसान नहीं है अल्फ़ाज़ों को जोड़कर कागज़ पर उतरना, ये काम उनका है जिनके दिल टूटे होते हैं। 

मेरी मोहब्बत कभी तो रंग लाएगी।


*बस एक चाहत है तुझमे समाने की और तेरी ही यादों में खो जाने की।
         *एक चाहत है तुझे पाने की और पाकर कभी न खोने की।
*एक चाहत है तेरी आँखों में खुद को देखने की और उन्हीं आँखों में डूब जाने की।
         *एक चाहत है तेरे लबों से खुद का नाम सुनने की।
*दिल चाहता है कि तुझपर अपना सिर रखकर तेरी जुल्फों को सहलाते हुए तुझे मीठी-मीठी बातें करूँ,पर शायद ये मेरे नसीब में नहीं।
               *जी करता है तू मेरे सामने बैठी रहे और मैं तुझे बस देखता रहूँ और कुछ बोलूँ भी न पर बिना कुछ बोले ही तू मेरी सारी बातें समझ जाये।
            *भिंगोना चाहता हूँ मैं खुद को तेरी आँखों के नीर में मैं तेरी आँखों की तस्बीर सब्दों से बनाकर खाली पन्नो पर सजाना चाहता हूँ।
             *तेरी आँखों में कशिश mohabbat की एक साफ़ दिखाई पड़ती है धड़कने तेज़ी से धड़कती है मगर आहिस्ता से तेरी ऒर बढ़ती है इन्हीं धड़कनो को मैं तेरी आँखों के रास्ते तेरे दिल तक ले जाना चाहता हूँ।
             *तेरी आँखें मासूम है,घाव कुछ गहरा करती है
तेरी पलकें नाज़ुक है,झपक के कुछ इशारा करती है aankhon और पलकों के इन्हीं मिले-जुले इशारों की एक ख़ूबसूरत सी कहानी मैं दुनियाँ को सुनाना चाहता हूँ।

     मैं दीवाना तो हुँ पर इतना भी नहीं की दीवाने भी मेरी दीवानगी के दीवाने हो जायें।  एक कोशिश है तेरे पास आने की, एक कोशिश है तेरे लबों को छू जाने की, एक कोशिश है तेरे आँखों में अपना चेहरा देख पाने की, एक कोशिश है तेरी सांसो से अपने जिस्म को महकाने की, एक कोशिश है कुछ हंसी पलों को संग तेरे बिताने की, कुछ कभी न भूलने वाली यादें संग तेरे बनाने की। एक कोशिश है तेरी धड़कनों में बस जाने की।

                         **DEVRAJ**

***कुछ तो बात है मोहब्बत में वर्ना कोई एक लाश के लिए TAJMAHAL थोड़ी बनवाता।।

**एक बात तो है जब तू नही होती है न तो आजकल कहीं भी दिल💝💝नहीं लगता।।**

Comments

Popular posts from this blog

तन्हाई भरी यादें

तेरे प्यार का दीवाना हो गया।।